Home > राजनीति > बिजली चोरी करने वाले हो जाए सावधान, सरकार ने लिया ये फैसला

बिजली चोरी करने वाले हो जाए सावधान, सरकार ने लिया ये फैसला

बिजली चोरी करने वाले हो जाए सावधान, सरकार ने लिया ये फैसला

बिजली चोरी करने वाले हो जाए सावधान, सरकार ने लिया ये फैसला

 

हिमाचल में बिजली की चोरी करने वाले सावधान हो जाए। हिमाचल में बिजली चोरी की घटनाएं रोकने को विशेष टॉस्क फोर्स गठित की जाएगी। ऊर्जा मंत्री अनिल शर्मा ने 15 दिन के भीतर सभी विद्युत मंडलों से चोरी हो रही बिजली की रिपोर्ट मांगी है।

इसके आधार पर क्षेत्रवार टास्क फोर्स का गठन होगा। यह टास्क फोर्स औचक निरीक्षण कर बिजली चोरी के मामले पकड़ेगी। बिजली चोरी रोकने के लिए पहले से गठित उड़नदस्ते और टास्क फोर्स अलग-अलग कार्रवाई करेगी।

रोहड़ू दौरे से लौटकर आए ऊर्जा मंत्री अनिल शर्मा ने बताया कि रोहड़ू में बड़े पैमाने पर बिजली चोरी की जा रही है। स्थानीय अधिकारियों के साथ ट्रांसमिशन लॉस को लेकर हुई बैठक में यह खुलासा हुआ।

ट्रांसमिशन लॉस कम करने को कसी कमर

बताया कि बैठक में मालूम पड़ा कि रोहड़ू में बिना मीटर के कई जगह बिजली सप्लाई हो रही है। बिजली चोरी करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के आदेश दिए गए हैं। रोहड़ू की तरह प्रदेश के अन्य क्षेत्रों में भी इस तरह के मामले पेश आ रहे होंगे। इन्हें पकड़ने को टास्क फोर्स गठित करने का फैसला लिया है।

ऊर्जा मंत्री अनिल शर्मा ने बताया कि ट्रांसमिशन लॉस होने से बिजली बोर्ड को सालाना करोड़ों रुपये का नुकसान उठाना पड़ रहा है। कई क्षेत्रों में बिजली के तार बहुत लंबी दूरी तक बिछाए गए हैं।

ट्रांसफार्मर कम होने के चलते ट्रांसमिशन लॉस अधिक हो रहा है। राष्ट्रीय विद्युत नियामक आयोग से 14 फीसदी तक ट्रांसमिशन लॉस मंजूर है। प्रदेश में वर्तमान में बिजली का ट्रांसमिशन लॉस 11 फीसदी है।

अन्य राज्यों के मुकाबले यह लॉस हिमाचल में कम है, लेकिन इसे और अधिक कम करने के लिए विशेष प्रयास किए जा रहे हैं। 15 दिन में सभी मंडल कार्यालयों से ट्रांसमिशन लॉस की जानकारी मांगी है। इसे कम करने के लिए सुझाव भी मांगे हैं।

 

खुद ड्राइव कर अनुष्का को डिनर पर ले गए विराट कोहली, सामने आईं ऐसी खिलखिलाती तस्वीरें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *